कभी दोनों भाइयों की एकता से हिल जाता था जंगल, एक शेरनी ने आते ही दो भाइयो के बीच डाली दरार

दोस्तो जब भी जंगल शब्द सुनते है तो सबसे पहले आपके दिमाग में क्या आता है ।सीधी सी बात है शेर का नाम ही आता है क्योंकि जंगल और शेर का गहरा नाता है ।शेर जंगल का राजा है और पूरे जंगल पर उसी की हकुमत चलती है । जंगल और उसके राजा के जीवन पर बहुत सी फिल्मे बनाई गई है जो जंगल के जीवन को दर्शाती है ।ऐसे में जंगल के राजा को लेकर बनाई गई एक और सीरीज सामने आई है जिसमे दो भाईयों की कहानी बताई गई है ।इस सीरीज से जुड़ी और जानकारी के लिए लेख को अंत तक जरूर पढ़े।

गुजरात के गिर में एशियाई शेरों के एकमात्र निवास स्थल से कई वीडियो निकलकर सामने आई हैं। इनमें एक विशेष पल तब सामने आता है, जब जंगल पर राज कर रहे दोनों भाइयों के सामने एक शेरनी घूमते हुए आ जाती है। वन्यजीव प्रेमी एवं राज्यसभा सांसद परिमल नथवाणी ने 12-एपिसोड की एक विशेष सीरीज ‘द प्राइड किंगडम’ (The Pride Kingdom) तैयार की है। गिर के जंगल में फिल्माई गई इस सीरीज में जंगल के राजा से जुड़े व उनके इंसानों से रिश्तों और शेरों से जुड़ा इतिहास भी दिखाया गया है।

बताया गया कि इस सीरिज की शूटिंग कुछ ही हफ्तों के दौरान कर ली गई। 11 जुलाई को इसे जियो टीवी, यूट्यूब जैसे विभिन्न ऑनलाइन प्लेटफॉर्म पर जारी कर दिया गया। इनमें पांचवां एपिसोड, जिसका नाम था- भाई की भाई से ना बनी…इसनें जंगल में शेरनी पर हक जताने की लड़ाई को दर्शाया।

पहले ही एपिसोड में दोनों के भाईचारे को दिखा दिया गया था और आगे कहानी उन्हीं की एकता पर चली, लेकिन अचानक कैसे एक शेरनी ने दोनों को लड़ा दिया, इसनें हर किसी को हैरान कर दिया। जहां जीत चुके भाई ने शेरनी को हासिल कर लिया और हार चुका भाई उस क्षेत्र को छोड़कर चला गया।

आखिर दोबारा मिले दोनों भाई

विश्वास जताया गया था कि दोनों भाई जल्द दोबारा मिलेंगे और हुआ भी वैसा, बाद के एपिसोड में दिखाया गया कि दोनों भाई एक बार दोबारा साथ आ चुके हैं और दोनों में किसी के भी पास कोई शेरनी नहीं है। हालांकि, कुछ देर बाद कहानी में एक बार फिर शेरनी की दस्तक होती है, लेकिन यहां अच्छी बात यह होती है कि इस बार दो ही शेरनी होती है, जो कि दोनों भाइयों में बट जाती हैं।बता दें कि गुजरात के मुख्यमंत्री के रूप में नरेंद्र मोदी ने एशियाई सिंहों के संरक्षण और संवर्धन के लिए अथक प्रयास किए थे। सांसद नथवानी ने इस सीरीज को बनाने के पीछे प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी और केंद्र सरकार के एक पहल ‘प्रोजेक्ट लायन’ की प्ररेणा बताई।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में केंद्र सरकार ‘प्रोजेक्ट लॉयन’ के लिए पहले ही 1000 करोड़ रुपये मंजूर कर चुकी है. दिसंबर 2022 तक यह अनुदान आवंटित कर दिया जाएगा।

Leave a comment

Your email address will not be published.