सावरकर के लुक में छा गए रणदीप हुड्डा, तस्वीरे देखकर आप भी कहेंगे वाह

दोस्तो बॉलीवुड सितारे और सेलेब्रिटीज अक्सर किसी न किसी चीज को लेकर ट्रोल होते रहते है । ट्रोल होना उनके लिए कोई बड़ी बात नहीं है आपको बता दे बॉलीवुड अभिनेता रणदीप हुड्डा इन दिनों ट्रॉलर्स के निशाना पर है । अभिनेता रणदीप हुड्डा ने ऐसा भी क्या कर दिया है जिसकी वजह से उन्हें ट्रोलर्स उन्हे ट्रोल कर रहे है और लिबरल ,लिबीर जानने के लिए लेख को अंत तक जरूर पढ़े।

सावरकर से नफरत या अपना अपना एजेंडा… सवाल ये है कि क्या अपनी अपकमिंग फिल्म का फर्स्ट लुक शेयर करने वाले रणदीप हुड्डा भूल गए कि अभी ‘मौसम’ ऐसी तस्वीरों के अनुकूल नहीं है. ट्रोल्स को तो बस ट्रोलिंग का बहाना चाहिए होता है और वो उन्हें मिल गया.

नफरत व्यक्तिगत रहे तो बेहतर है. पब्लिक प्लेटफॉर्म पर आती है तो विवाद का विषय बनती है और इसके चलते आदमी खानों में बंट जाता है. एजेंडे का भी कुछ ऐसा ही सीन है. ये भी नफरत जितनी शिद्दत से आदमी को बांटता है. इन बातों को समझने के लिए कहीं दूर क्या ही जाना। विनायक दामोदर सावरकर का ही रुख कर लीजिये। सावरकर को राइट विंग अपना आदर्श मानता है वहीं जो लिबरल हैं उनके पास सावरकर के लिए अपशब्दों की लंबी फेहरिस्त है. ये लिबीर-लिबीर करते हैं. राइट विंग को मौका देते हैं लेकिन चूंकि इनके तर्क बेहद कमज़ोर और पचाने योग्य नहीं होते, ये मुंह की खाते हैं. क्योंकि इनका एकसूत्रीय एजेंडा सावरकर से नफरत है ये उनके जीवन से जुड़ी कोई चीज बर्दाश्त ही नहीं कर सकते। फिल्म तो बिल्कुल नहीं और शायद यही वो कारण है जिसकी भारी कीमत एक्टर रणदीप हुड्डा को चुकानी पड़ी. रणदीप को उनकी अपकमिंग फिल्म स्वतंत्र वीर सावरकर के फर्स्ट के लिए सोशल मीडिया पर बेदर्दी से ट्रोल किया जा रहा है.

अपनी अपकमिंग फिल्म स्वतंत्र वीर सावरकर में रणदीप का स्वैग बस देखते ही बनता है

आइये समझें सावरकर और रणदीप हुड्डा का कनेक्शन

जैसा बॉलीवुड का ट्रेंड है, इन दिनों बॉलीवुड में बायोपिक की भरमार है. मेकर्स इस बात को जानते हैं कि सिनेमा के नाम पर कुछ चले या न चले बायोपिक ठीक ठाक बिजनेस कर लेगी। इसी विचार को ध्यान में रखकर प्रोड्यूसर संदीप सिंह और आनंद पंडित ने विनायक दामोदर सावरकर पर फिल्म बनाने का फैसला किया। फिल्म को महेश मांजरेकर डायरेक्ट कर रहे हैं और एक्टर रणदीप हुड्डा इसमें लीड या ये कहें कि सावरकर के रोल में हैं.क्यों कि 28 मई सावरकर का जन्मदिन है इसलिए फिल्म स्वतंत्र वीर सावरकर’ का फर्स्ट लुक बाहर आया है।

RANDEEP HOODA: ‘SWATANTRA VEER SAVARKAR’ FIRST LOOK OUT NOW… On#VeerSavarkar’s birth anniversary today, producers #AnandPandit,#SandeepSingh and #SamKhan unveil#FirstLook of #RandeepHooda, who portrays the title role in#SwatantraVeerSavarkar… Directed by#MaheshManjrekar.pic.twitter.com/uktFOwQqUZ

— taran adarsh (@taran_adarsh)May 28, 2022

फिल्म में सावरकर की भूमिका रणदीप ने निभाई है और जैसा ये फर्स्ट लुक है. साफ़ है कि इस फिल्म के लिए भी रणदीप ने जी तोड़ मेहनत की है. यदि हम सावरकर की पुरानी तस्वीरों और रणदीप के इस फर्स्ट लुक को देखें तो जैसी डिटेलिंग मेकर्स द्वारा की गयी है, रणदीप को पहचानना मुश्किल है. 

Swatantra Veer Savarkar first look: Randeep Hooda transforms into VD Savarkar, fans call it ‘perfect casting’@RandeepHoodapic.twitter.com/EP4a2b1Anh

— ZekeRavi Official?? (@zeke_ravi)May 28, 2022

ख़बरों की मानें तो फिल्म की स्क्रिप्ट का काम लगभग ख़त्म हो चुका है और इसकी शूटिंग अगस्त 2022 से शुरू की जाएगी. विनायक दामोदर सावरकर की भूमिका निभाने के लिए चुने जाने पर रणदीप बेहद खुश हैं और सरबजीत के बाद ये दूसरी बार है जब किसी रोल के लिए बतौर एक्टर रणदीप ने अपने आप पर खूब मेहनत की है. 

HINDUTVA DHARM NAHI, ITIHAS HAI…On this occasion of 139th#VeerSavarkarJayanti the makers of the film ‘Swatantra Veer Savarkar’ have released the first look of#RandeepHooda portraying the character of Vinayak Damodar Savarkar.pic.twitter.com/vJjDYADzlg

— Jaya Asdf (@Jaya_Asdf) May 28, 2022

जैसा देश का माहौल है चाहे वो डायरेक्टर महेश मांजरेकर हों या फिर रणदीप हुड्डा दोनों ही के लिए ये फिल्म कहीं से भी आसान नहीं है. अब इसे सावरकर के प्रति लिबरल्स और बुद्धिजीवियों की नफरत कहें या एक वर्ग विशेष का अपना खासा एजेंडा फिल्म के बनने से बहुत पहले ही सिर्फ फर्स्ट लुक के कारण ही फिल्म को वो पब्लिसिटी मिल गयी है जिसकी इसे दरकार थी.

coming soon.really looking forward to this pic.twitter.com/LCSB9kUFFj

— Melon Musk (Parody) (@Vegg_Biryani) May 28, 2022

सोशल मीडिया पर चर्चाओं का दौर शुरू हो गया है. चाहे ट्विटर और फेसबुक हों या फिर इंस्टाग्राम अलग अलग प्लटफॉर्म पर हर वो बात हो रही है जिसका न तो फिल्म से कोई मतलब है और न ही मनोरंजन से.

If you are a method actor, do practice getting down on your knees and apologising. It will come in handy.

— Tushar (@TusharG) May 28, 2022

लोग यही चर्चा कर रहे हैं कि इस फिल्म के जरिये जो संदेश रणदीप दें रहे हैं उससे भले ही आप एक एजेंडे के तहत सावरकर को बुलंदी पर ले जाएं लेकिन इसका जो असर समाज पर पड़ेगा वो कहीं ज्यादा नकारात्मक होगा। 

This is The man u are gonna to [email protected] actor has to be responsible in what he protrays to the world.. U all have a HUGE responsibility of setting an example to ppl..Is this the example ur setting???https://t.co/UneRCArM2L

— Ria (@RiaRevealed) May 28, 2022

सवाल ये है कि आखिर लिए रणदीप ट्रोल्स के निशाने पर हैं? क्या एक फिल्म के लिए अपना 100 प्रतिशत देना गुनाह है? हम फिर इस बात को दोहराना चाहेंगे कि भले ही इस फिल्म के लिए रणदीप को सोशल मीडिया पर एक वर्ग विशेष द्वारा गलियों से नवाजा जा रहा हो लेकिन हमें इस बात को समझना होगा कि इस फिल्म में सिर्फ अपने लुक से रणदीप ने जान फूंक दी है.

Shame on you @RandeepHooda You are smut on the name of Jaat. Your veer Savarkar was maafi veer & Britishers tout, just how you are BJP’s.#MaafiVeerhttps://t.co/VojsVimAYr

— Mohit Gahlot (@MohitGahlot)May 28, 2022

ट्विटर पर लोग सावरकर के उन पत्रों की भी बात कर रहे हैं जिसमें उन्होंने अंग्रेजों से माफ़ी मांगी थी. 

Savarkar was a great author, those 9 apology letters will be remembered for 100’s of years to come. #RandeepHooda

— Imraan Hussain joo (@ImraanH24760191) May 28, 2022

बहरहाल अब जबकि फिल्म का फर्स्ट लुक आ गया है और रणदीप इसमें शानदार लग रहे हैं तो हम भी बस ये कहकर अपनी बातों को विराम देंगे कि तस्वीर शेयर करने वाले रणदीप हुड्डा भूल गए कि अभी ‘मौसम’ ऐसी तस्वीरों के अनुकूल नहीं है. ट्रोल्स को तो बस बहाना चाहिए होता है इस तस्वीर ने उन्हें व्यर्थ की बहस के लिए बेतुके तर्क करने का बहाना दे दिया है.

Leave a comment

Your email address will not be published.