महंगे बिजली बिल के झंझट से मिली मुक्ति,खूब चलाओ पंखे, एसी और लाइट, नहीं भरना पड़ेगा 1 रुपए भी बिल

दोस्तों जैसे जीने के लिए हवा ,पानी ,भोजन जरूरी है उस्सी तरह आज के समय में बिजली भी बहुत जरूरी है यदि बिजली नही होगी तो बहुत से काम रुक जायेंगे .क्योकि बदलते समय के साथ -साथ बहुत सी ऐसी मशीनों का निर्माण हुआ है जिसने इंसान के कामो को आसान बना दिया है .लेकिन उसके साथ ही एक परेशानी भी बढ़ा दी है और वो है बिजली का बिल क्योकि घर हो या ऑफिस हर जगह बिजली की जरूरत होती है खासकर गर्मी के मौसम में तो ज्यादा .हर जगह पंखे, फ्रिज, लाइट, एसी या कूलर चलते ही है .अब ऐसे में इस परेशानी को ध्यान में रखते हुए बिजली कंपनी एक ऐसी योजना लेकर आई है जिसके तहत आपका रे 1 भी बिजली का बिल नहीं आएगा। इस योजना के बारे में जानने के लिए खबर को अंत तक जरुर पढ़े .

बिजली कंपनी की एक योजना का लाभ उठाएं, एक रुपए भी नहीं आएगा बिजली बिल

अक्सर देखा गया है कि लोग अपने घरों के अंदर बिजली का इस्तेमाल कई कामों में करते हैं। लेकिन जब बिजली का बिल ज्यादा आ जाता है तो वह बहुत परेशान हो जाते हैं। अगर आप भी इनमे से हैं तो यह खबर आपके बेहद काम आ सकती है। दरअसल बिजली कंपनी की अगर एक योजना का अब लाभ उठाते हैं, तो आपको रे1 भी बिजली का बिल नहीं भरना पड़ेगा। इसके लिए आपको बस एक तकनीक का सहारा लेना पड़ेगा।आपको बता दें कि मध्यप्रदेश में बहुत से लोगों ने इस तकनीकी का सहारा लिया है और उनका रे1 भी बिजली का बिल नहीं आ रहा है। अभी भी शहर में कुछ लोग ऐसे भी रहते हैं, जिनके घर के अंदर बिजली का कनेक्शन नहीं है और यह लोग उनमें से हैं जिन्होंने महंगी होती हुई बिजली के बाद सौर ऊर्जा का सयंत्र लगवाया हुआ है। इससे उन्हें बहुत लाभ मिल रहा है।

बेहतर मिलेगा वोल्टेज, नहीं होगी बिजली जाने की झंझट

जिन लोगों ने ऊर्जा का सयंत्र लगाया है वह अब बिजली का उत्पादन कर रहे हैं। इतना ही नहीं बल्कि वह बिजली कंपनी को बिजली की बिक्री करके अच्छा खासा मुनाफा भी कमा रहे हैं। सौर ऊर्जा का सयंत्र लगवाने के लिए किसी ने डेढ़ लाख तो किसी ने दो लाख खर्च किए। अब इनको हर महीने बिजली बिल में सब्सिडी भी प्राप्त हो रही है। जिले में करीब 200 से अधिक उपभोक्ता ऐसे हैं जिनको बिजली के जाने या अधिक वॉल्टेज होने से कोई भी फर्क नहीं पड़ता है।इन लोगों ने सिर्फ एक बार ही निवेश किया है लेकिन हर बार के भारी-भरकम बिजली के बिल से इनको छुटकारा मिल गया है। ज्यादातर लोग सौर ऊर्जा की तरह अपने कदम बढ़ा रहे हैं और बिजली कंपनी को बिजली देकर अच्छी खासी कमाई करने में लगे हुए हैं।

इन लोगों ने की शुरुआत, यह काम आप भी करें

बहुत से लोगों ने इसकी शुरुआत की है। बता दें सीएल सालित्रा शिक्षा विभाग में उच्च पद पर हैं। यह शहर के कस्तूरबा नगर क्षेत्र की गली नंबर 6 में रहते हैं। इनका हर महीने घर के बिजली का बिल 8 से 10 हजार आ जाया करता था, जिससे यह बहुत परेशान थे। करीब 6 महीने पहले ही उन्होंने सौर ऊर्जा सयंत्र लगवाया। 4 किलोवॉट का उन्होंने संयंत्र लगवाया है, जिससे अब हर महीने 400 यूनिट बिजली बना रहे।उन्होंने कुल 9 पैनल लगवाए हुए हैं। इसमें हर पैनल 445 वॉट का है। अब वह बिजली को ऊर्जा विभाग को हर महीने 75 से 100 यूनिट बिजली देते हैं। उनको इसमें करीब 2 लाख खर्च करने पड़े थे। अब तो इनका बिजली बिल शुन्य हो चुका है। इतना ही नहीं बल्कि बिजली उत्पादन से यह बिजली कंपनी को बिजली दे रहे हैं और इनको कंपनी के द्वारा पैसे साल में एक बार मिलेंगे।

वहीं 3 किलोवाट का सौर ऊर्जा का पैनल शहर के जवाहर नगर में आलोक कुमार ने लगवाया। इसे लगवाने से पहले तक 12 से 15 हजार का बिल दुकान का इनका आ जाता था, जिससे बहुत परेशान थे। लेकिन अब पैनल लगवाने के बाद इनका बिजली का बिल आना बंद हो गया। इतना ही नहीं बल्कि अतिरिक्त उत्पादन कर बिजली कंपनी को यह हर महीने औसतन 100 से 110 यूनिट बिजली भी दे रहे हैं।आलोक कुमार के मुताबिक, उनके द्वारा 12 पैनल लगवाए गए हैं। इससे उनको बहुत लाभ मिला है। इनको सिर्फ एक बार ही पैसा खर्च पर करना पड़ा लेकिन अब हर बार के भारी-भरकम बिजली के बिल से इनको छुटकारा मिल गया है।

कई तरह से होता है लाभ

अगर आप सौर ऊर्जा सयंत्र लगवाते हैं तो इससे सबसे बड़ा लाभ यह होता है कि आप खुद के लिए ही नहीं बल्कि बिजली कंपनी के लिए भी ऊर्जा का उत्पादन करते हैं। ऐसे में बिजली के भारी-भरकम बिल से आपको मुक्ति भी मिल जाती है। इसके साथ-साथ साल में एक बार बिजली कंपनी खरीदी गई बिजली की रकम का भुगतान भी आपको करती है। यानी कि आपका बिजली का बिल आना भी बंद हो जाएगा और आप अच्छी खासी कमाई भी कर सकते हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published.