दिल्ली में कोरोना ने म’चाया क’हर, श्म’शान घा’टों पर अं’तिम संस्का’र के लिए नहीं बची जगह

ताजा खबर

देश की राजधानी दिल्ली की हालत दिन पर दिन खराब होती जा रही हैं. कोरोना वायरस को लेकर दिल्ली में मरीजो की संख्या बढती जा रही हैं. जिस हिसाब से कोरोना मरीजो की संख्या बढ़ रही है वैसे ही दिल्ली के अंदर मौ’त के आंकड़े भी बढ़ते हुए नजर आ रहें हैं. कोरोना वायरस को लेकर दिल्ली में स्तिथि डरावनी होती जा रही हैं. कोरोना की वजह से दिल्ली में इतनी मौ’त हो रही है कि श्म’शान घाट भी छोटा पड़ने लगा है.

दिल्ली में लगातार बढ़ रहे संक्रमण के बीच मौ’त के आंकड़े भी लगातार बढ़ रहे हैं. दिल्ली के निगमबोध घाट में सालों से अंति’म संस्कार करा रहे आचार्यों का भी कहना है कि कोरोना का’ल में उनकी मुश्किलें बढ़ गई हैं. उन्होंने बताया कि बीते 15 दिनों से रोजाना 40-50 श’व रोज अंति’म संस्कार के लिए आते हैं. निगमबोध घाट के आचार्य का कहना है कि उनकी टीम जो श’वों का अंति’म संस्कार करवा रहें हैं वो भी अब परेशान हो चुके हैं. उनका कहना है कि जब कोरोना से मरने वाले लोगों की डेड बॉडी ज्यादा आने लगी तो सरकार ने 4 और श्मशा’न घाटों को तैयार करना शुरू किया है.

कोरोना वायरस की वजह से दिल्ली के निगमबोध घाट में 48 प्लेटफार्म है. लेकिन अब  निगमबोध घाट का इस वक़्त का आलम यह है कि अब वो घाट भी अं’तिम संस्कार के लिए छोटा पड़ता जा रहा हैं. जिसको देखते हुए सरकार ने नदी के किनारे चि’ताओं को जला’ने के लिए व्यवस्था की है.

दिल्ली में कोरोना मरीजो की संख्या 34000 के पार पहुँच चुकी हैं. उसके बाद भी दिल्ली सरकार सिर्फ राजनीति कर रही है और कुछ नहीं. दिल्ली में मरीजों की संख्या बढती जा रही हैं और इसी के साथ मौ’त का भी आंकड़ा बढ़ रहा है. जिसकी वजह से दिल्ली के अंदर श्मशा’न घा’ट में भी अं’तिम संस्कार को लेकर जगह कम पडती जा रही हैं.

1 thought on “दिल्ली में कोरोना ने म’चाया क’हर, श्म’शान घा’टों पर अं’तिम संस्का’र के लिए नहीं बची जगह

  1. Pandemic novel covid coronavirus 19 transmission rate and mortality rate increasing day by entire to nation especially in capital and related periphery.govt is doing well stable and suitable guideline but this pandemic is rather different to other endemic.
    ,epidemic,pandemic due to it’s different nature of origin.as for as medical professional we apply all resources which is neccessory to prevent the transmission of infection and give good recovery rate on the basis of very limited resources.
    So I would like convey to my govt please modify the novel covid corona virus guideline as for as convinient.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *