मुस्लिम लड़के को नकली ID दिखाकर मह्काल की भस्म आरती में एन्ट्री लेना पड़ गया भारी

दोस्तो भगवान के घर के दरवाजे सभी के लिए खुले होते है ।कोई भी कभी भी वहा आ जा सकता है ।लेकिन सुरक्षा को ध्यान में रखते हुए अब मंदिरों में सिक्योरिटी बढ़ा दी गई है।लेकिन इतनी कड़ी सुरक्षा होने के बाद भी कभी कभी कोई ऐसे लोग मंदिर में घुस आते है जो सभी के लिए खतरा बन सकते है। आज हम आपको ऐसे ही एक मामले के बारे बताने वाले है ।

दरअसल महाकाल मंदिर में एक महिला और पुरुष साथ गए थे। मंदिर में आरती हो रही थी। आरती के समय कई लोग वहां मौजूद थे। सभी की आईडी को देखा गया था। आईडी देखने के बाद ही सभी लोग आरती में शामिल हुए थे। लेकिन कुछ लोगों को एक युवक की हर कतें देखने के बाद ऐसा लगा कि वह युवक हिंदू समाज (Hindu Religion) से नहीं है। कुछ समय बाद वहां मौजूद लोगों ने उस युवक से पूछताछ की। पूछताछ करने के बाद ही वहां मौजूद लोगों ने कुछ ऐसा किया। जिसे जानना आपके लिए बेहद जरूरी है।

महाकाल मंदिर में हिंदू युवती के साथ था मु स्लिम युवक

आपको बता दें कि महाकाल मंदिर (Mahakal Temple) में एक हिंदू युवती और एक मु स्लिम युवक गए थे। उस युवक का नाम यूनुस मो हम्मद बताया जा रहा है। पहले उस युवक ने अपना नाम अभिषेक बताया था। सिर्फ इतना ही नहीं उस व्यक्ति के पास मिली आईडी पर भी उसका नाम अभिषेक है। अब सोचने वाली बात यह है कि आखिर वह व्यक्ति अभिषेक नाम की आईडी लेकर मंदिर में क्यों गया था। कुछ लोग इस मामले को लेकर खूब चर्चा कर रहे हैं, तो वहीं दूसरी तरफ कुछ लोग उस युवक को आईना दिखाने की भी बात कर रहे हैं।

युवक-युवती पर हुआ मामला दर्ज़

आपको बता दें कि महाकाल मंदिर (Mahakal Temple) में जिस मंदिर के कर्मचारी ने मो हम्मद यूनुस को धरा है। उस कर्मचारी का नाम रितेश है। रितेश ने ही उस व्यक्ति को आरती में जाने की अनुमति दी। लेकिन बाद में उन्हें लगा कि आरती में शामिल व्यक्ति हिंदू समुदाय से नहीं आता है। आईडी देखने के बाद युवक और युवती दोनों से पूछताछ की गई। हालांकि महाकाल पुलिस ने दोनों के ऊपर मामला दर्ज कर हवालात भेज दिया है। हवालात भेजे जाने के बाद ही महाकाल मंदिर की सु रक्षा बढ़ा दी गई है।

फैशन डिज़ाइनर है युवती

मीडिया द्वारा मिल रही खबरों के अनुसार युवती का नाम खुशबू है। युवक बीते 10 वर्षों से खुशबू के घर काम कर रहा था। मो हम्मद यूनुस कर्नाटक (Karnataka) के हावेरी का रहने वाला है। युवक और युवती दोनों मंगलवार को इंदौर (Indore) आये थे। वहां से दोनों उज्जैन महाकाल मंदिर में भस्म आरती (Bhasma Aarti) करने पहुंचे। हालांकि दोनों के बारे में जानकारी मिलने के बाद अब उन्हें हवालात भेज दिया गया है। कुछ लोग यह जानना चाहते हैं कि आखिर युवक नाम बदलकर आरती में शामिल होने क्यों आया था।

Leave a comment

Your email address will not be published.