आज ही के दिन जन्मे थे आशोक कुमार, 4 शादियां रचाने के बाद भी सच्चे प्यार की तलाश में रहे भटकते

दोस्तो बॉलीवुड में बहुत से महान सिंगर्स रहे है उन्ही में से एक है दिवंगत सिंगर किशोर कुमार जिन्होंने बॉलीवुड के बहुत से सुपरहिट गानों को अपनी सुरीली और मधुर आवाज से सजाया है ।जितनी खूबसूरत किशोर कुमार की आवाज है उतनी ही दमदार उनकी एक्टिंग भी किशोर कुमार ने अपने शानदार अभिनय से लाखो को अपना फैन बना लिया । 04 अगस्‍त को 1929 को जन्‍मे किशोर कुमार का वास्तविक नाम आभास कुमार गांगुली था. अपनी सिंगिंग और एक्टिंग के लिए किशोर हमेशा सुर्खियों में रहे है यही नही इसके साथ ही किशोर का निजी जीवन भी बड़ा दिलचस्प रहा जिसकी वजह से उन्होंने खूब सुर्खियां बटौरी।सच्चे प्यार की खातिर किशोर एक के बाद एक शादी करते गए ।क्या उन्हे इसके बाद भी अपनी सच्ची मोहब्बत मिल पाई जानने के लिए लेख को अंत तक जरूर पढ़े।

रूमा घोष (Ruma Ghosh)

किशोर कुमार ने सबसे पहले बंगाली सिंगर और एक्ट्रेस रूमा घोष के साथ शादी की थी। ये शादी ज्यादा दिनों तक नहीं चल पाई। 1950 में दोनों के साथ फेरे लिए थे और 1958 में दोनों अलग हो गए। Also Read – बिग बॉस 11: नए प्रोमो में दिखेगा सलमान खान का खास अंदाज, किशोर दा की तरह अपनी पड़ोसन पर रखेंगे नजर

मधुबाला (Madhubala)

रूमा घोष से अलग होने एक बाद किशोर कुमार की जिंदगी में मधुबाला ने एंट्री की। दोनों के अफेयर के चर्चों ने फैंस का खूब ध्यान खींचा था। मधुबाला और किशोर कुमार ने एक साथ कई फिल्मों में काम किया था। कई सालों तक डेट करने के बाद दोनों ने 1960 में शादी की और 1969 में मधुबाला की मौत हो गई।

योगिता बाली (Yogeeta Bali)

मधुबाला की मौत के बाद किशोर कुमार एक बार फिर अकेले पड़ गए थे। किशोर कुमार ने अपने जमाने की मशहूर अदाकारा रहीं योगिता बाली से तीसरी शादी की। दोनों की शादी 1976 में हुई थी। शादी के लगभग 2 साल बाद ही दोनों ने एक दूसरे से अलग होने का फैसला ले लिया। Also Read – किशोर कुमार की बायोपिक में लीड रोल में नजर आएंगे अदनान सामी, मेकर्स ने किया अप्रोच

लीना चंदावरकर (Leena Chandavarkar)

योगिता बाली से अलग होने के बाद किशोर कुमार की चौथी शादी लीना चंदावरकर से 1980 में थी। उनके दो बेटे थे। 13 अक्टूबर 1987 को उनके भाई अशोक कुमार का 76वां जन्मदिन था और उनका बॉम्बे में शाम 4:45 बजे दिल का दौरा पड़ने से निधन हो गया। उनके पार्थिव शरीर को अंतिम संस्कार के लिए खंडवा ले जाया गया था।

Leave a comment

Your email address will not be published.