चार बच्चो का बाप होने के बाद भी मिथुन चक्रवर्ती को कभी नसीब नही हुआ पापा सुनने का सुख,जानिये कारण

दोस्तों 70 के दशक में बॉलीवुड में एक सांवले ,पतले – दुबले नौजवान ने एंट्री मारी उस समय शायद किसी ने नही सोचा होगा कि आने वाले समय में यही नौजवान मिथुन दा के नाम से जाना जायेगा .ऐसा कोई नही होगा जो मिथुन दा को न पहचानता हो .मिथुन दा ने अपने फ़िल्मी करियर में 450 से भी अधिक फिल्मो में अभिनय किया है और अपने अभिनय के दम पर नाम ,दौलत शौहरत सब हासिल किया है . आज के समय में मिथुन दा के पास सब कुछ है लेकिन उनके जीवन में बस एक चीज़ की कमी है .इसी कमी की वजह से मिथुन दा इन दिनों सुर्खियों में बने हुये है .

क्योंकि हालहिं मिथुन चक्रवर्ती के निजी जीवन को लेकर एक बहुत बड़ी बात पता चली है। और वो ये है की 4 बच्चो के पिता होने के बाद भी आज वो अपने बच्चो के मुँह से प्यार से पापा शब्द सुनने के लिए तरसते है। यही कारण है कि वर्तमान समय मे मिथुन दा चर्चे का विषय बने हुए है। आपको बता दे कि मिथुन चक्रवर्ती जी को लेकर यह बात किसी और ने नही बल्कि खुद मिथुन चक्रवर्ती जी ने कही है।

क्योंकि हालहिं मिथुन चक्रवर्ती के निजी जीवन को लेकर एक बहुत बड़ी बात पता चली है। और वो ये है की 4 बच्चो के पिता होने के बाद भी आज वो अपने बच्चो के मुँह से प्यार से पापा शब्द सुनने के लिए तरसते है। यही कारण है कि वर्तमान समय मे मिथुन दा चर्चे का विषय बने हुए है। आपको बता दे कि मिथुन चक्रवर्ती जी को लेकर यह बात किसी और ने नही बल्कि खुद मिथुन चक्रवर्ती जी ने कही है।मिथुन चक्रवर्ती ने आगे बताया कि पापा तो छोड़ो उन्हें उनके चारो बच्चे उनके नाम से पुकारते है। मिथुन दा के बोलने का मतलब है कि उन्हें उनके बच्चे पापा की जगह मिथुन बोलकर बुलाते है।

ये है वजह

मिथुन दा ने बताया कि जब उनके पहला बेटा हुआ था तो वह 4 साल तक बोल नही पा रहा था। लेकिन फिर एक दिन अचानक से उसके मुँह से मिथुन निकल गया। और जब उसे डॉक्टर के पास लेकर गए तो डॉक्टर ने बोला की उससे बार-बार मिथुन ही बुलवाओ। जिंसके चलते उसे मिथुन ही बोलने की आदत पड़ गई और बेटे को देख-देखकर उनकी तीनो बच्चे भी उन्हें मिथुन नाम से ही बुलाने लगी। यही कारण है कि मिथुन दा को कभी भी अपने बच्चो से पापा सुनने को नहीं मिला।

Leave a comment

Your email address will not be published.