इस स्कुल में अचानक से रोने, चिल्लाने और सिर पटकने लगी 8वी क्लास की लड़कियां, दहशत में आया स्कुल का स्टाफ

मित्रों आप लोग को इस बात से अवगत कराना चाहते है कि इस समय आजीबो गरीब घटनाये सामने आती रहती है पहले भी एक स्कूल में बच्चे अचानक रोने चिल्लाने लगे इस तरह की घटनाएं घटित हुई है पड़ोसी जिलों अल्मोड़ा,पिथौरागढ़, चमोली के सरकारी स्कूलों से सामने आ चुकी हैं. इस घटना के बाद प्रशासन समेत डॉक्टर्स की टीम आज जूनियर हाईस्कूल पहुंची और छात्राओं की काउंसिलिंग की इस घटना के बाद से स्कूल में डर का माहौल बना हुआ है एक बार फिर से मंगलवार जैसी स्थिति देखने को मिली कुछ बच्चे इसी तरह का असामान्य व्यवहार कर रहे थे इस घटना की खबर तुरंत बच्चों के माता-पिता को दी गई इस खबर के बारे में आगे जानने के लिए पोस्ट के अंत तक बने रहिये

दरअसल ये मामला उत्तराखंड के बागेश्वर विकासखंड के रैखोली जूनियर हाईस्कूल में इस घटना से अचानक हड़कंप मच गया कक्षा 8 की 5-6 छात्राएं अचानक चिल्लाने लगीं और रोते-रोते बेहोश होने लगी, इस घटना से वहां अफ़रा-तफ़री का माहौल बन गया. इसके बाद आनन-फानन में स्कूल के शिक्षकों ने इन छात्राओं को जैसे तैसे संभाला और उनके अभिवावकों को स्कूल में बुलाकर छात्राओं को घर भेजा गया कुछ लोग इस घटना को मास हिस्टीरिया बता रहे हैं शिक्षा विभाग इस घटना की जानकारी मिलने के बाद डॉक्टर्स की टीम भी बागेश्वर के स्कूल पहुंची. स्कूल की प्रिंसिपल के मुताबिक मंगलवार को सबसे पहले बच्चों के बीच इस तरह की आसामान्य गतिविधि देखने को मिली थी.

आपकी जानकारी के लिए बता दे कि लड़कियां और लड़के समेत कुछ छात्र इस तरह का आसामान्य व्यवहार कर रहे थे. उन्होंने बताया कि स्टूडेंट्स रो रहे थे और चिल्ला रहे थे. वह कांप भी रहे थे. बिना किसी भी रीजन के वह अपना सिर पीटने की कोशिश कर रहे थे. उन्होंने एक पुजारी को बुलाने के बाद स्थिति नियंत्रण में आ सकी स्कूल की प्रिंसिपल ने बताया कि गुरुवार को एक बार फिर से इसी तरह की स्थिति देखने को मिली कुछ बच्चे इसी तरह का असामान्य व्यवहार कर रहे थे. इस घटना की खबर तुरंत बच्चों के माता-पिता को दी गई अभिभावकों के पहुंचने के बाद उन्होंने स्कूल परिसर में पूजा करने की बात कही वहीं इस घटना से घबराए शिक्षकों ने कहा कि हालात सामान्य करने के लिए वह सब कुछ करेंगे. लड़कियों की इस तरह की हालत देखकर स्कूल समेत आसपास के लोग सकते में आ गए और लोग तरह-तरह की बातें कर रहे हैं कह रहे क्या बच्चो को हो गया है.

Leave a comment

Your email address will not be published.