IAS आलोक पांडेय ने शेयर की हॉस्टल के कमरे की इस तस्वीर, यहाँ दिन-रात पढ़ाई कर बने कलेक्टर

दोस्तो हर कोई यूपीएससी परीक्षा देना चाहता है सभी को मालूम ये इतना आसान नही है ।इस परीक्षा को पास करने के लिए दिन रात मेहनत करनी पड़ती है सब कुछ भूलकर अपने लक्ष्य पर फोकस करना पड़ता है ।बहुत मेहनत करने के बाद भी कई बार कुछ छात्र इस परीक्षा को पास नही कर पाते और एक बात में ही हार मान लेते है ।लेकिन जिनकी अपनी मंजिल पता होती है तो तब तक प्रयास करते है जब तक अपनी मंजिल पा न ले ।तो कई इतनी ज्यादा मेहनत करते हैं एक बार में ही इस परीक्षा को पास कर के दिखाते है ।यदि किसी में कुछ कर दिखाने का जज्बा हो तो मुश्किल कुछ भी नही बाद में आपकी सफलता शोर मचा मचा कर सबको आपकी मेहनत की दास्तां सुनती है.

IAS आलोक पांडेय ने एक तस्वीर शेयर की है, जिसे यूजर्स खूब पसंद कर रहे हैं। इस तस्वीर को देखकर लोग अपने दिन याद कर रहे हैं। आलोक पांडेय 2006 बैच के IAS अधिकारी हैं।

IAS आलोक पांडेय ने जो तस्वीर शेयर की है वो उनके हॉस्टल के दिनों की है, जिस दौरान वह UPSC की तैयारी कर रहे थे। ये वही टेबर और कुर्सी है जिसमें सारा-सारा दिन बैठकर पढ़ाई कर आलोक पांडेय ने अपने सपनों को पूरा किया। हॉस्टल के एक कमरे में दिन रात पढ़ाई की और IAS बनकर ही दम लिया। एक यूजर ने लिखा कि- आप अपना कार्य ईमानदारी से कर रहे हैं। आप गुजरात टूरिज्म के लिए यूट्यूब चैनल से बहुत यादें दे रहे हैं। आप उन चुनिंदा IAS में से हैं जिनको मैं कह सकता हूं कि आप अपनी जिम्मेदारी निभा रहे हैं।

2006 बैच के आईएएस अधिकारी, पांडे उत्तर प्रदेश के सुल्तानपुर के रहने वाले हैं, और इलाहाबाद विश्वविद्यालय से प्राचीन इतिहास में एमए और सार्वजनिक नीति में एमए पूरा करने के बाद गुजरात सेवा के कैडर में शामिल हो गए। अतीत में, उन्होंने मेहसाणा के जिला कलेक्टर के रूप में कार्य किया है और प्रधान मंत्री नरेंद्र मोदी के जन्मस्थान वडनगर को पर्यटन आकर्षण में बढ़ावा देने के प्रयास किए हैं। वह भारत सरकार के पर्यटन मंत्रालय के तहत एक स्वायत्त निकाय, होटल प्रबंधन संस्थान (IHM), अहमदाबाद के बोर्ड ऑफ गवर्नर्स में भी कार्य करता है।

हाल ही में एक फेरबदल में, गुजरात सरकार ने गुजरात पर्यटन और अहमदाबाद शहरी विकास प्राधिकरण (AUDA) में बदलाव सहित नौ IAS अधिकारियों को पदोन्नत और स्थानांतरित किया था। गुजरात पर्यटन निगम लिमिटेड (टीजीसीएल) के प्रबंध निदेशक जेनु देवन को गांधीनगर में स्टाम्प के अधीक्षक और पंजीकरण के महानिरीक्षक के रूप में पदोन्नत और नियुक्त किया गया है। उनकी जगह रोजगार एवं प्रशिक्षण निदेशक आलोक कुमार पांडेय ने लिया।। सरकार ने दो आईएएस अधिकारियों को भी पदोन्नति दी है जो वर्तमान में दिल्ली में प्रतिनियुक्ति पर हैं।

देवन पांडे के स्थान पर गांधीनगर में श्रम और रोजगार आयुक्त का अतिरिक्त प्रभार संभालेंगे, जिन्हें गुजरात पर्यटन निगम लिमिटेड (टीजीसीएल) के नए प्रबंध निदेशक के रूप में पदोन्नत किया गया है। 2017 में टीजीसीएल में अपनी नियुक्ति के बाद से, देवन गुजरात पर्यटन को बढ़ावा देने के लिए मामलों के शीर्ष पर रहे हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published.