सोनाली फोगाट की तरह इन स्टार्स की जान जाने का कारण भी था हार्ट अटैक

मित्रो जैसा की आप सभी लोग अवगत होगे कि कुछ ऐसी खबरे है जो हमें सोशल मीडिया के माध्यम से ही सुनने को मिलती है जो सभी को झकझोर के रख देगी क्योकि पिछले कुछ दिनों से कुछ ऐसी घटनाये सुनने को मिली है जिससे पूरी मनोरंजन की दुनिया बहुत ही दुखी हो गयी है इसी प्रकार से मनोरंजन की दुनिया से एक और बड़ी दुखद खबर आ रही है जिससे देखने वाले लोगो के होश को उड़ा दिया है क्योकि कुछ दिनों से मनोरंजन की दुनिया का बहुत ही बुरी हालत रही है वर्ष 2022 में  कई महान एक्टरो ने  बहुत ही कम उम्र में इस दुनिया से अलविदा कह दिया है इसी प्रकार टीवी की जाने मानी स्टार सोनाली फोगाट ने भी इस दुनिया से अलविदा कह दिया है ऐसा सुनने में आया है तो आइये जानते है कि इनकी मौत का क्या कारण है जानने के लिए बने रहे पोस्ट के अंत तक.

सोनाली फोगाट की मौत, जानिए क्यों कम उम्र में ही कमजोर पड़ रहा दिल, हार्ट अटैक से जा रही जान

दोस्तों आज से 15-20 साल पहले किसी बुजुर्ग की मौत होने पर पता चलता था कि हार्ट अटैक के कारण उनकी मौत हो गई है. लेकिन पिछले कुछ वर्षों में कम उम्र के लोग ही हार्ट अटैक के शिकार हो रहे हैं. मशहूर टिकटॉक स्टार और भाजपा नेता सोनाली फोगाट की सिर्फ 42 वर्ष की उम्र में ही हार्ट अटैक के कारण मौत हो गई. इससे पहले मशहूर कॉमेडियन राजू श्रीवास्तव को 58 वर्ष की उम्र में हार्ट अटैक आया और वह अभी अस्पताल में जिंदगी की जंग लड़ रहे हैं. पिछले वर्ष मशहूर टीवी एक्टर सिद्धार्थ शुक्ला  का 40 वर्ष की उम्र में ही हार्ट अटैक के कारण निधन हो गया था. कन्नड स्टार पुनीत राजकुमार की भी पिछले वर्ष सिर्फ 46 वर्ष की उम्र में ही हार्ट अटैक के कारण मौत हो गई थी.

ऐसे में प्रश्न यह है कि इतनी कम उम्र में ही हार्ट अटैक के मामले पिछले कुछ वर्षों में आखिर क्यों बढ़ गए हैं. विशेषज्ञ इसके पीछे हमारी आधुनिक जीवनशैली को जिम्मेदार मानते हैं. खानपान से जुड़ी गलत आदतें, नींद की कमी और जिम में कड़ी मेहनत कम उम्र में ही हार्ट अटैक के प्रमुख कारणों में से एक हैं. हालांकि, जानकारों के अनुसार 45 वर्ष से कम आयु के लोगों में दिल के दौरे (Heart Attack) का खतरा कम होता है. कुछ साल पहले तक जहां 45 से कम उम्र के लोगों में हार्ट अटैक के मामले बिरले ही सुनने को मिलते थे अब हार्ट अटैक के 10 फीसद से ज्यादा मामले 45 से कम उम्र के लोगों में सामने आते हैं.

कम उम्र में हार्ट अटैक के लक्षण :-

हार्ट अटैक के लक्षण आमतौर पर हर उम्र में एक जैसे ही होते हैं, लेकिन कम उम्र के लोग इन लक्षणों को नजर अंदाज करते हैं. इसलिए इन लक्षणों को गंभीरता से लें और तुरंत डॉक्टर को दिखाएं.
1. छाती में जकड़न महसूस होना या दर्द होना
2. बाहों में दर्द होना
3. कोल्ड स्वेट की समस्या (गर्मी न लगने पर भी पसीना आना)
4. थकान और सुस्ती महसूस होना
5. सांस लेने में दिक्कत होना
6. पेट दर्द महसूस होना
7. मतली या अपच की समस्या होना
8. चक्कर आना

दिल का दौरा या हार्ट अटैक आने पर अलग-अलग लोगों को विभिन्न तरह के लक्षण महसूस हो सकते हैं. कई लोगों को छाती में हल्का दर्द महसूस होता है, जबकि कुछ लोगों को तेज दर्द की अनुभूति होती है. कुछ लोगों को अचानक दिल का दौरा पड़ता है, जबकि कुछ लोगों को घंटों तक लक्षण महसूस होते हैं. अगर ऐसा आपके साथ भी होता है तो आपको सतर्क रहने की जरूरत है. हालांकि, आपको यह भी समझना चाहिए कि छाती में दर्द या भारीपन सिर्फ हार्ट अटैक का ही लक्षण नहीं है. कई बार इसके पीछे कुछ अन्य कारण भी हो सकते हैं, लेकिन आपको हमेशा सचेत रहना चाहिए.

कम उम्र में हार्ट अटैक के प्रमुख कारण :-

हार्ट अटैक के कारण भी आमतौर पर एक जैसे ही होते हैं. फिर भी कुछ कारण गिनाए जा सकते हैं, जो कम उम्र में हार्ट अटैक की समस्या के लिए जिम्मेदार होते हैं. नीचे दिए जा रहे कारणों पर गौर फरमाएं.
1. धूम्रपान की आदत
2. बहुत अधिक शराब पीना
3. हाई ब्लड प्रेशर की समस्या
4. हाई कोलेस्ट्रॉल
5. डायबिटीज से ग्रसित होना
6. रोजाना के खाने में जरूरी पोषक तत्वों की कमी
7. दिनचर्या में शारीरिक गतिविधियों की कमी होना
8. मोटापा
9. लगातार नींद पूरी न होना और जिम में कठिन कार्डियो व्यायाम
10. कोकीन (cocaine) या गांजा (marijuana) का ज्यादा सेवन

Leave a comment

Your email address will not be published.