इस रक्षाबंधन कर्मचारियों को मिलेगा ख़ास तोहफा, 96 हजार तक सैलरी में आयेगा उछाल,

दोस्तो कर्मचारियों के लिए बहुत बड़ी खुशखबरी है ।कर्मचारियों को जल्दी ही बहुत बढ़िया गिफ्ट मिलने वाला है और खबर सामने आ रही है कि ये गिफ्ट कर्मचारियों को रक्षाबंधन से पहले ही मिल जायेगा ।जिसके बाद उनकी खुशी का कोई ठिकाना नहीं होगा ।आखिर क्या है वो गिफ्ट जो कर्मचारियों के चेहरों पर मुस्कान लाने वाला है जानने के लिए खबर को अंत तक जरूर पढ़े।

केंद्रीय कर्मचारियों (Central Government employees) के लिए एक गुड न्यूज है।  रक्षाबंधन से पहले कर्मचारियों को एक बड़ा तोहफा मिल सकता है, जिससे सैलरी में 96000 तक बढोतरी होगी।  ताजा मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार, अगस्त में केन्द्र की मोदी सरकार कर्मचारियों के फिटमेंट फैक्टर (Fitment Factor) बढ़ाने पर फैसला ले सकती है। अगर सहमति बनती है तो इसे 1 सितंबर 2022 से लागू किया जा सकता है और इसका लाभ 52 लाख कर्मचारियों को मिलेगा।हालांकि सरकार की तरफ से कोई अधिकारिक बयान सामने नहीं आया है।

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, जिसमें सरकार अगले फिटमेंट फैक्टर पर फैसला ले सकती है। इसके लिए ड्राफ्ट तैयार किया जाएगा, जिसे सरकार को शेयर किया जाएगा और जल्द एक बैठक भी हो सकती है। इसके बाद पीएम नरेन्द्र मोदी की अध्यक्षता में होने वाली अगली कैबिनेट बैठक में इस प्रस्ताव पर विचार किया जा सकता है । संभावना है कि फिटमेंट फैक्टर 2.57 फीसदी से बढाकर 3.68 फीसदी तक किया जा सकता है और सितंबर 2022 से इसे लागू किया जा सकता है।
दरअसल, फिटमेंट फैक्टर का केन्द्रीय कर्मचारियों की बेसिक सैलरी तय करने में अहम रोल होता है। इस फैक्टर के कारण ही केंद्रीय कर्मचारियों के वेतन में ढाई गुना से अधिक की वृद्धि होती है। पिछली वेतन आयोग की रिपोर्ट में फिटमेंट फैक्टर एक महत्वपूर्ण सिफारिश है, इसी आधार पर वेतन वृद्धि तय होगी। फिटमेंट फैक्टर के आधार पर ही पुरानी बेसिक पे से रिवाइज्ड बेसिक पे की कैलकुलेशन की जाती है।इस समय कर्मचारियों का फिटमेंट फैक्टर 2.57 गुना की दर से है. इसी आधार पर न्यूनतम बेसिक सैलरी 18000 रुपये है और अधिकतम बेसिक सैलरी 56900 रुपये  है।

आखिरी बार 2017 में एंट्री लेवल बेसिक पे 7000 रूपये प्रतिमाह से बढ़ाकर 18000 रूपये की गई थी और अब अगर इस पर मुहर लगी तो न्यूनतम बेसिक सैलरी में 8000 की बढोतरी होगी। पे-लेवल-1 पर फिलहल बेसिक सैलरी 18000 रुपए है, अगर फिटमेंट फैक्टर बढ़ता है तो ये 26000 रुपए हो जाएगी और इसका लाभ करीब 52 लाख कर्मचारियों को मिलेगा।वही  7वें वेतन आयोग के बाद 8वां वेतन आयोग भी लाया जा सकता है और 1 जनवरी 2026 से इसे लागू किया जा सकता है।इससे बेसिक सैलरी में इजाफा होगा, जो की कर्मचारियों के लिए बड़ी राहत साबित होगी।

जानें कितनी बढ़ सकती है सैलरी

  • 8th Pay Commission के तहत अब अगर फिटमेंट फैक्टर 3.68 गुना होता है तो न्यूनतम वेतनमान 26,000 हो जाएगा।
  • उदाहरण के तौर पर, यदि किसी केंद्रीय कर्मचारी की बेसिक सैलरी 18,000 रुपए है, तो भत्तों को छोड़कर उसकी सैलरी 18,000 X 2.57= 46,260 रुपए का लाभ होगा।
    3.68 होने पर सैलरी 95,680 रुपये (26000 X 3.68 = 95,680) हो जाएगी यानि सैलरी में 49,420 रुपए लाभ मिलेगा।
  • 6th Pay Commission के तहत फिटमेंट फैक्टर 1.86 गुना और वेतन वृद्धि 54% के साथ न्यूनतम वेतनमान 7,000 और 7th Pay Commission के तहत फिटमेंट फैक्टर 2.57 गुना और वेतन वृद्धि 14.29% होने पर न्यूनतम वेतनमान 18,000 रुपए पर पहुंचा है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.