कुर्ता पैजामा पहनने पर DM ने प्रिंसिपल को किया सस्पैंड

दोस्तो गुरु बिना ज्ञान नहीं ।गुरु से ही शिक्षा प्राप्त होती है वही सही और गलत में फर्क करना सिखाते है अच्छा इंसान बनकर जीवन में सफल होने की राह दिखलाते है ।गुरु का हमेशा सम्मान करना चाहिए चाहे वह जमीन पर बिठा के अपने शिष्य को शिक्षा दे ।गुरु जो भी अपने शिष्य के साथ करते है उनकी भलाई के लिए ही करते है कभी वे उनसे प्यार से पेश आते है तो कभी उन्हे कठोर भी बनना पड़ता । गुरु की चाहे कैसी भी वेशभूषा हो लेकिन उन्हे ज्ञान कितना गई ये मायने रखता है ।लेकिन अब समय बदल गया है ।लोग कपड़ो को देख कर जज करने लगे है ।एक समय ऐसा था जब शिक्षक धोती कुर्ते में पढ़ाते थे ।लेकिन आज यदि कोई पहन ले तो लोग मजाक उड़ाते है । कोई कैसे भी कपड़े पहने किसी को अधिकार नहीं की वो उनका अपमान करे।आज हम आपको ऐसे एक मामले के बारे में बताने वाले है जिसमे सादे कपड़े पहनने की वजह से डी एम ने किया हेडमास्टर का अपमान इस पूरे मामले का वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है और लोग अपनी अपनी प्रतिक्रिया दे रहे है ।इस मामले के बारे में पूरी जानकारी के लिए खबर को अंत तक जरूर पढ़े

DM और हेडमास्टर का एक वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है. इसमें प्रिंसिपल के पहनावे को देखकर डीएम गुस्से से भर गए. प्रिंसिपल को कुर्ता पजामा पहने देख डीएम कहते हैं- यह जनप्रतिनिधि का पहनावा है. इसके बाद डीएम ने जिला शिक्षा पदाधिकारी को वहीं से फोन मिला दिया और प्रिंसिपल को सस्पेंड करने की बात करने लगे. हेडमास्टर की सैलरी भी रोकने की बात कही. डीएम कैमरे के सामने ही हेडमास्टर पर चिल्लाते हुए भट्ट… और चुप्प कहते भी दिखाई देते हैं. इतना ही नहीं, डीएम कहते हैं कि हेडमास्टर को अपनी सैलरी से ही स्कूल में लाइट्स लगवाने चाहिए

लेकिन इस वीडियो के वायरल होने के बाद लोग डीएम के व्यवहार पर आपत्ति जाहिर कर रहे हैं. असल में वीडियो में डीएम छात्रों के सामने ही हेडमास्टर से आपत्तिजन भाषा में बात करते दिखते हैं मामला बिहार के लखीसराय जिले का है. यहां बालगुदर पंचायत के कन्या प्राथमिक विद्यालय बालगुदर का निरीक्षण करने डीएम संजय कुमार सिंह पहुंचे थे. उनके साथ स्थानीय मुखिया भी मौजूद थे. इसी दौरान स्कूल के प्रिंसिपल निर्भय कुमार सिंह पर डीएम भड़क गए.

अब लोग घटना का वीडियो शेयर कर डीएम को निशाने पर ले रहे हैं. फिल्ममेकर अशोक पंडित ने भी इसका वीडियो शेयर किया और लिखा- इस तथाकथित डीएम को टीचर से उनका अपमान करने के लिए माफी मंगवानी चाहिए और तुरंत उसे नौकरी से निकाल देना चाहिए

सौरव पाठक नाम के एक यूजर ने भी इस वीडियो को ट्वीट किया. लिखा- भारत में एक टीचर का कुर्ता पजामा पहनना भी अपराध है क्या? कुर्ता पजामा पहनने के लिए यह यह टीचर ‘ शो काउज’ और ‘सैलेरी कट’ का ऑर्डर दे रहे हैं. इंग्लिश बाबू डीएम का इस तरह से व्यवहार करना उचित है क्या?

एक यूजर ने बिहार के मुख्यमंत्री को टैग करते हुए लिखा- अंग्रेजी गुलामी वाली मानसिकता भरा पड़ा है ऐसे IAS ही देश को बर्बाद कर रहे हैं. नीतीश कुमार जी आपकी जिम्मेदारी है, आप भाग नहीं सकते है. ऐसे लोग देश को समाज को नर्क बना रहे हैं. जानते हैं नौकरी तो जाएगी नहीं और इसकी ही गर्मी है. इसके अलावा भी कई और लोगों ने डीएम का वीडियो ट्वीट कर उन्हें नौकरी से निकालने की मांग की.

https://twitter.com/abhishektiwary7/status/1546403889167343616

Leave a Reply

Your email address will not be published.