सबके प्यारे ‘गजोधर भैया’,आज सबको सबको रुला गए,आखिरी सांस तक लड़ते-लड़ते दुनिया को कह गये अलविदा

दोस्तो जैसा कि सभी को मालूम पिछले कुछ दिनों से भारत के मशहूर कॉमेडियन राजू श्रीवास्तव का इलाज दिल्ली के एम्स अस्पताल में चल रहा था ।उनके स्वास्थ्य को लेकर लगातार अपडेट आ रहे थे । अभी तक राजू वेंटिलेटर पर ही थे ।फैन्स उनके लिए लगातार दुआएं मांग रहे थे ।लेकिन इसी बीच राजू श्रीवास्तव को लेकर ऐसी खबर आई जिससे इंटरटेनमेंट की दुनिया में मातम छा गया ।राजू श्रीवास्तव के नि धन की खबर ने उनके फैन्स को मायूस कर दिया दिया ।इस मामले के बारे में जानने के लिए खबर को अंत तक जरूर पढ़े।

मशहूर कॉमेडियन राजू श्रीवास्तव का निधन हो गया है. वो 58 साल के थे. दिल का दौरा पड़ने के बाद उन्हें दिल्ली के एम्स अस्पताल में भर्ती कराया गया था. 10 अगस्त को एम्स में भर्ती करवाने के बाद से उनकी तबीयत में कोई सुधार नजर नहीं आया था. वर्कआउट करते वक्त कॉमेडियन अचानक गिर गए और बेहोश हो गए थे. कार्डियक अरेस्ट के बाद राजू श्रीवास्तव के दिमाग पर भी इसका असर हुआ, जिसकी वजह से उनका ब्रेन डैमेज हो गया था

42 दिनों से थे अस्पताल में भर्ती

राजू श्रीवास्तव पिछले 42 दिनों से अस्पताल में भर्ती थे. काफी समय तक वेंटिलेटर पर रहने के बावजूद परिवार और डॉक्टर्स ये उम्मीद कर रहे थे कि वो स्वस्थ रूप से वापस घर लौट आएंगे, लेकिन वो अब हमारे बीच नहीं रहे.

राजू श्रीवास्तव का ब्रेन फंक्शन नहीं कर रहा था

डॉक्टर्स ने ये जानकारी दी थी कि राजू का ब्रेन फंक्शन नहीं कर रहा है. जब तक ब्रेन फंक्शन नहीं करता तब तक वो होश में नहीं आ सकते थे. लोग उनके लिए लगातार प्रार्थना कर रहे थे. एक बार उनके होश में आने की खबरें भी सामने आई थीं लेकिन ये सब महज अफवाहें थीं. उनकी बेटी अंतरा ने कहा था कि केवल राजू श्रीवास्तव जी के ऑफिशियल पेज या फिर एम्स के ऑफिशियल पेज की खबरों को ही सच मानें. झूठी खबरों पर ध्यान न दें

पत्नी और बेटी थीं साथ में मौजूद

राजू श्रीवास्तव की पत्नी शिखा और बेटी अंतरा लगातार उनके साथ आईसीयू में मौजूद थीं. लेकिन हाल ही में फिर से उन्हें बुखार आने के बाद पत्नी और बेटी को उनके पास जाने नहीं दिया गया था. बार-बार बुखार आ जाने से डॉक्टर्स भी बहुत परेशान थे

कुमार विश्वास ने जताया शोक

राजू श्रीवास्तव के निधन पर अब उनसे जुड़े लोग शोक जाहिर कर रहे हैं. कुमार विश्वास ने उनके निधन पर कहा कि, ‘राजू भाई ने आखिर ईश्वर के लोक की उदासी से लड़ने के लिए, सांसारिक यात्रा से विराम ले ही लिया. उनके संघर्ष के दिनों से लेकर यश के शिखर तक की यात्रा के सैकड़ों संस्मरण आंखों के आगे तैर रहे हैं. उदास लोगों को मुस्कराहट की ईश्वरीय सौगात देने वाले सिकंदर को अंतिम प्रणाम भाई

रात में ही तबीयत बिगड़ने लगी थी

आपकी जानकारी के लिए बता दें कि, रात में ही उनकी तबीयत बिगड़ने लगी थी. डॉक्टरों ने काफी कोशिश की लेकिन वो राजू की जान नहीं बचा पाए. उनके निधन के बाद अब उत्तर प्रदेश के रेजिडेंट कमिश्नर रिग्जियान सैंपल अस्पताल पहुंच रहे हैं. परिवार की पूरी सहायता उत्तर प्रदेश सरकार कर रही है. यूपी सीएम को भी निधन की जानकारी दी गई है

 

Leave a comment

Your email address will not be published.