टिक टोक स्टार के कान से निकला 4 सेमी कॉकरोच, देख कर डाक्टर का भी हुया ये हाल

दोस्तों चाहे जितनी भी साफ़ सफाई रख लो उसके वाबजूद भी हमारी नजरो से बच कर कीड़े-मकौड़े घर के अंदर घुस ही जाते है और घर के किसी कौने में छुप जाते है और मौका मिलते ही बाहर निकल आते है .घर में आये ये कीड़े -मकौड़े कभी -कभी हमारे लिए बड़ी मुसीबत बन जाते है . कभी परिवार के किसी सदस्य को  काट लेते है या नाक ,कान या मुंह में घुस जाते है .आज हम आपको ऐसे ही एक मामले  के बारे में बताने वाले है जिसमे सो रही लड़की के कान में कॉकरोच घुस गया उसके बाद क्या हुआ जानने के लिए खबर को अंत तक जरुर पढ़े .

 

सिंगापुर की रहने वाली एक महिला के कान में कॉकरोच घुस गया, इसके बाद कॉकरोच निकालने के लिए उन्‍होंने घर पर कई जतन अपनाए. उनकी सारी कोशिशें नाकाम रहीं. थक-हारकर महिला हॉस्पिटल के इमरजेंसी में गईं और डॉक्टरों ने उनके कान से कॉकरोच को बाहर निकाला. महिला ने अपने कान में माउथवाश डालकर भी कॉकरोच भगाने की कोशिश की थी.महिला सुबह-सुबह जब सोकर उठीं तो एक कॉकरोच उनके कान के पास था, लेकिन वह उसे हटा पातीं उससे पहले ही वो कान के अंदर घुस गया. महिला ने इसके बाद कॉकरोच को माउथवॉश से मारने की कोशिश की. फिर चिमटी से निकालने की कोशिश की. इससे कॉकरोच की कुछ स्किन तो बाहर आ गई लेकिन पूरा कॉकरोच नहीं निकला, जिसके बाद वो अस्‍पताल गईं.

टिकटॉक यूजर @nadia.limzq सिंगापुर में रहती हैं. उन्‍होंने इस आपबीती पर वीडियो बन 5 लाख से अधिक व्‍यूज मिल चुके हैं. जैसे ही कॉकरोच उनके कान के अंदर गया, वह चिल्‍ला पड़ीं. उनको कान में कॉकरोच हिलता-डुलता हुआ महसूस हो रहा था.इसके बाद उन्‍होंने माउथवॉश को अपने कान में उड़ेल लिया. लेकिन टिकटॉक यूजर को इस बात की बिल्‍कुल भी जानकारी नहीं थी कि ऐसा करना कितना सेफ होगा. उनके ऐसा करने से कॉकरोच ने कान के अंदर हिलना तो बंद कर दिया. लेकिन वह बाहर नहीं निकला. फिर उन्‍होंने चिमटी की सहायता से उसे निकालने की कोशिश की, पर इतना सब कुछ करने के बाद भी कॉकरोच बाहर नहीं आ पाया.

खुद से कॉकरोच निकालने की सारी कोशिशें नाकाम हो गईं तो वो हॉस्पिटल गईं. वहां उन्‍होंने अपनी स्थिति के बारे में नर्स को बताया तो वह भी हैरान रह गईं. इसके बाद डॉक्‍टरों ने सक्‍शन और टूल्‍स का उपयोग कर कॉकरोच को टुकड़ों में बाहर निकाला. कॉकरोच की लंबाई 3.5 से 4 सेमी के बीच थी.टिकटॉक यूजर ने बताया कि उनके साथ जब प्रोसेस हो रहा था तो यह काफी पीड़ादायक था. डॉक्‍टर ने उन्‍हें एंटीबैक्‍टीरियल ड्रॉप भी दी.

Leave a Reply

Your email address will not be published.