एकतरफा प्यार में रिजेक्शन बर्दाश्त नहीं कर पाए युवक ने लड़की को जिन्दा जलाया, सड़कों पर जमकर हो रहा विरोध-प्रदर्शन

दोस्तो जब कोई किसी को देखता है तो कभी कभी उस इंसान की ओर आकर्षित होने लगता है और धीरे धीरे उसे प्यार हो जाता है और ये प्यार कब जुनून बन जाता है उसे पता ही नही चलता और उसके सिर पर बस अपने प्यार को पाने की धुन सवार होती है ।किसी किसी मामले में प्यार एक तरफा होता है जिसमे प्रेमी प्रेमिका के इनकार को बर्दाश्त नहीं कर पाता और कोई खौफनाक कदम उठा लेता है आज हम आपको ऐसे ही एक तरफा प्यार के खौफनाक अंजाम के बारे में बताने वाले है।जानने के लिए खबर को अंत तक जरूर पढ़े।

एकतरफा प्यार में जलाई गई छात्रा की मौत के बाद दुमका में भारी तनाव, सड़कों पर विरोध-प्रदर्शन कर रहे लोग

झारखंड के दुमका जिले में एकतरफा प्यार में जलाई गई युवती की आज रांची में मौत हो गई। छात्रा की मौत के बाद दुमका में बड़ी संख्या में लोग सड़कों पर उतर आए है। महिलाओं के साथ-साथ हिंदू संगठन के लोग सड़कों पर नारेबाजी कर रहे हैं।एकतरफा प्यार कितना खतरनाक होता है, इसका एक ताजा उदाहरण झारखंड के दुमका जिले से सामने आया है। जहां एक मुस्लिम मनचले ने एकतरफा प्यार में घर में सो रही हिंदू लड़की को जिंदा जला दिया। घटना बीते मंगलवार की है। आज उस लड़की ने रांची के रिम्स में इलाज के दौरान दम तोड़ दिया। अस्पताल प्रबंधन ने युवती की मौत की पुष्टि की है। जिसके बाद से परिजनों में कोहराम मचा है।छात्रा की मौत के बाद दुमका का माहौल बिगड़ गया है। छात्रा की मौत की खबर फैलते ही दुमका में गुस्साए लोग सड़कों पर उतर आएं। घटना के विरोध में शहर की दुकानें स्वत: बंद हो गई हैं। प्रदर्शन कर रहे लोग अंकिता के परिजनों के लिए इंसाफ की मांग कर रहे हैं। प्रदर्शन में बड़ी संख्या में महिलाएं भी शामिल हैं। तनाव को देखते हुए शहर में भारी संख्या में पुलिस बल की तैनाती की गई है।

घर में सोते समय खिड़की से पेट्रोल छिड़ककर लगाई गई थी आग

घटना के संबंध में बताया गया कि बीते मंगलवार को जब छात्रा अपने घर में सो रही थी तभी सुबह करीब पांच बजे मनचले युवक ने खिड़की से पेट्रोल छिड़ककर उसपर आग लगा दी थी। इस घटना में युवती 95 फीसदी जल चुकी थी। दुमका में प्राथमिक इलाज के बाद उसे बेहतर इलाज के लिए रांची के रिम्स के बर्न वार्ड में भेजा गया था। जहां पांच दिन तक जिंदगी और मौत के बीच जंग लड़ने के आज आखिरकार उस लड़की ने दम तोड़ दिया।

12वीं की छात्रा थी अंकिता, आरोपी शाहरुख भेजा गया जेल

पीड़िता की पहचान दुमका के जरूवाडीह मोहल्ले निवासी संजय सिंह की बेटी अंकिता के रूप में हुई है। अंकिता 12वीं की छात्रा थी। जबकि आरोपी उसी मोहल्ले का रहने वाला शाहरूख हुसैन है। घटना के दिन ही पुलिस ने शाहरूख को गिरफ्तार कर लिया था। जिसके बाद उसे जेल भेज दिया गया है

पीड़िता को परेशान करता था मनचला

इस शर्मनाक घटना के संबंध में एसडीपीओ नूर मुस्तफा अंसारी ने बताया कि शाहरूख युवती से एकतरफा प्यार करता था। लेकिन, युवती उससे बात करना भी पसंद नहीं करती थी। वह कुछ दिनों से युवती को चलते-फिरते रास्ते में भी परेशान किया करता था। मोबाइल पर भी फोन कर दोस्ती करने के लिए दवाब देता था।सोमवार शाम भी आरोपी ने फोन कर दोस्ती करने की बात कही थी। लेकिन उसने इनकार कर दिया था। जिसके बाद मंगलवार सुबह आरोपी ने खिड़की से पेट्रोल छिड़ककर कर आग लगा दी और फरार हो गया। पुलिस पूछताछ में आरोपी ने अपना जुर्म कबूल कर लिया है। उसे जेल भेजा जा चुका है।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published.