यहां शाम होते ही सजने लगता है मर्दो का बाजार,अमीर घरो कि औरते लगाती है मर्दों कि बोली

मित्रों आज हम आपको एक ऐसी खबर से रूबरू करवाने वाले जिसे जानकार आप भी सोच में पड़ जायेंगे . जी हाँ अपने ने सुना होगा कि कई लोग ऐसे भी होते है जो लडकियों को किडनेप ,करके लडकियों बेच लेते है या खुलेआम लडकियों की बोली लगाईं जाती है और धंधा कराया जाता है पर आज हम बात लडकियों को छोड़कर मर्दो कि करेंगे, आपको बतायेंगे एक ऐसी जगह जहाँ मर्दों  की बोली लगाई जाती है जी हा कई युवा अपनी जरूरतों को पूरा करने के लिए इस प्रोफेशन में आते हैं तो कईयों का यह धंधा भी बन चुका हैं। बताते चले कि यह डीलिंग पूरी तरह से सिस्टमैटिक ढंग से की जाती हैं। कौन लगाता  है पुरूषों की बोली आगे जानने के लिए पोस्ट के अंत तक बने रहिये

दिल्ली (DELHI ) में कुछ इलाके ऐसे हैं जहां औरतों की नहीं बल्कि खुलेआम मर्दो की बोली लगती हैं। यहां रईस घराने की औरतें आती हैं और खुलेआम मर्दो की बोली लगाती हैं। यह सिलसिला रात 10 बजे बाद शुरू होता है। जहां आम लड़कों का जाना मुश्किल हो जाता है। यहां शाम होते ही मर्दो का बाजार सजने लगता हैं।

खबरों की माने तो इस इलाके को जिगोलो मार्केट कहा जाता हैं। जहां औरतें खुलेआम मर्दो की बोली लगाकर उन्हें तय रेट पर अपने घर ले जाती है। हालांकि यह सबकुछ सीक्रेट रूप से होता हैं। मीडिया रिपोर्ट्स की माने तो जिगोलो में रात 10 बजे से शुरू होने वाले इस मार्केट में मर्दो को मुंहमांगी कीमत दी जाती है। यह धंधा रात 10 बजे से शुरू होकर सुबह 4 बजे तक चलता है। हालांकि यह कारोबारी पूरी से छिपकर किया जाता हैं।

दिल्ली में कई ऐसे इलाके हैं जहां रात होते ही मर्दो की बिक्री का काम शुरू हो जाता हैं। जिसमें लाजपत नगर, सरोजनी नगर, पालिका मार्केट एवं कमला नगर सहित अन्य शामिल हैं। खबरों की माने तो इस धंधे को कई युवा अपना प्रोफेशन बना चुके हैं। जहां कुछ घंटों की कीमत 1800 से 3000 रूपए होती हैं। तो वहीं पूरी रात की कीमत 8000 व इससे ज्यादा तक होती हैं। यह सब डिपेंड करता है मर्दो की सुन्दरता एवं पर्सनाल्टी पर।


कई युवा अपनी जरूरतों को पूरा करने के लिए इस प्रोफेशन में आते हैं तो कईयों का यह धंधा भी बन चुका हैं। बताते चले कि यह डीलिंग पूरी तरह से सिस्टमैटिक ढंग से की जाती हैं। यहां बिकने वाले मर्दो को कमाई का 20 प्रतिशत हिस्सा संस्था को देना पड़ता है। जिसके वह टच में रहता हैं।

ऐसे करते हैं पहचान

खबरों की माने तो इस मार्केट में लड़कों के गले में रूमाल एवं पट्टा बांध दिया जाता हैं। इससे उनकी पहचान होती हैं। जिस लड़के गले में जितना लम्बा रूमाल होगा उसकी कीमत भी उतनी ही अधिक होगी। बताते चले कि इस प्रोफेशन को कई लड़के बड़े चाव से करते हैं। तो कई मजबूरी के चलते इस प्रोफेशन को चुनते हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published.