ऐश्वर्या पर टूटा मुसीबतो का पहाड़,मनी लॉन्ड्रिंग के चक्कर मे हो रही पूछताछ

दोस्तों एक समय था जब बॉलीवुड अभिनेत्री ऐश्वर्या रॉय सलमान खान के साथ अफेयर की वजह से सुर्खियों में थी . उसके बाद ऐश्वर्या ने अभिषेक बच्चन के साथ शादी करके घर बसा लिया और बच्चन परिवार की बहु बन गयी ! लेकिन इस समय एश्वर्या राय काफी उलझन में है बता दें कि एश्वर्या राय के ऊपर अचानक की मुसीबतों का पहाड़ टूट चूका है ! चलिए जानते है आखिर मामला क्या है !

समाजवादी पार्टी (सपा) की सांसद जया बच्चन ने संसद में अपना आपा खो दिया और भारतीय जनता पार्टी पर निशाना साधते हुये कहा- तुम्हारे बुरे दिन जल्द ही शुरू होंगे। उनकी यह प्रतिक्रिया ऐश्वर्या राय बच्चन के प्रवर्तन निदेशालय के सामने पेश होने के कुछ घंटों बाद सामने आया है।जया बच्चन ने दावा किया कि व्यक्तिगत टिप्पणियां सदन के पटल पर पारित की गईं। जया बच्चन ने बाद में कहा- मैं किसी पर कोई व्यक्तिगत टिप्पणी नहीं करना चाहती। जो हुआ वह बहुत दुर्भाग्यपूर्ण था और उन्हें उस तरह से नहीं बोलना चाहिये था जैसा उन्होंने किया।

एनडीपीएस (संशोधन) विधेयक पर बहस में भाग लेते हुये जया बच्चन ने 12 निलंबित विपक्षी सदस्यों के मुद्दे को उठाया और कहा कि भुवनेश्वर कलिता, जो कुर्सी पर थे, खुद सदन के वेल में विरोध करते थे। इस पर भाजपा सदस्यों की तीखी प्रतिक्रिया हुई।उन्होंने कहा- मैं आपको धन्यवाद नहीं देना चाहती क्योंकि मुझे नहीं पता कि मुझे याद रखना चाहिये या नहीं कि जब आप चिल्लाते हुये वेल में जाते थे … या आज जब आप कुर्सी पर बैठे हैं।उनकी टिप्पणी पर आपत्ति जताते हुये भाजपा सांसद राकेश सिन्हा ने कहा- आप कुर्सी पर सवाल उठा रही हैं।

लेकिन जया बच्चन ने अपना भाषण जारी रखा और अफसोस जताया कि ऐसे समय में जब देश कई महत्वपूर्ण मुद्दों का सामना कर रहा है, सदन ने विधेयक में “लिपिकीय त्रुटि” को सुधारने पर बहस के लिये 3-4 घंटे का समय दिया है।
हंगामे के बीच, उन्होंने आरोप लगाया कि उनके खिलाफ व्यक्तिगत टिप्पणी की गई।उन्होंने आसन को संबोधित करते हुये कहा- मुझे उम्मीद है कि आप मेरे और मेरे करियर पर की गई टिप्पणी पर कार्रवाई करेंगे। आप निष्पक्ष होना चाहते हैं। आप कुर्सी पर बैठे हैं, आप किसी पार्टी से नहीं हैं, सर।

उन्होंने कहा- वे सदन में व्यक्तिगत टिप्पणी कैसे कर सकते हैं..आप लोगों के बुरे दिन आयेंगे, मैं आपको श्राप देती हूं।हालांकि जया बच्चन द्वारा की गई टिप्पणी को “व्यक्तिगत” शोर में ठीक से नहीं सुना जा सकता। राज्यसभा को इस मौखिक विवाद के बाद स्थगित कर दिया गया।

इधर पनामा पेपर्स मामले में बॉलीवुड एक्ट्रेस ऐश्वर्या राय बच्चन सोमवार को प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) के सामने पेश हुईं। ऐश्वर्या राय बच्चन केंद्रीय एजेंसी के दिल्ली कार्यालय के सामने पेश हुईं।ऐश्वर्या राय बच्चन का नाम उन 500 भारतीयों की सूची में शामिल है, जिनका नाम पनामा पेपर्स में था, जिसमें 11.5 मिलियन कर दस्तावेज लीक हुये थे, जिससे कई विश्व नेताओं और मशहूर हस्तियों का पर्दाफाश हुआ, जिन्होंने कथित तौर पर अपतटीय कंपनियों में विदेशों में पैसा जमा किया था।

इस लिस्ट में ऐश्वर्या के ससुर मेगास्टार अमिताभ बच्चन का भी नाम था।
पनामा पेपर्स मामले में पांच घंटे की पूछताछ के बाद ऐश्वर्या राय बच्चन ने प्रवर्तन निदेशालय कार्यालय छोड़ दिया। हालांकि उन्होंने मीडिया से कुछ नहीं कहा।
प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) ने सोमवार को पनामा पेपर्स मामले में बॉलीवुड अदाकारा ऐश्वर्या राय बच्चन से पूछताछ की। ईडी ने विदेशी मुद्रा नियमों के उल्लंघन के आरोप में 48 वर्षीय ऐश्वर्या राय को तलब किया।जांच एजेंसी ने दिल्ली में ऐश्वर्या राय का बयान दर्ज किया। उन पर विदेशी मुद्रा प्रबंधन अधिनियम (फेमा) के उल्लंघन में विदेशों में धन जमा करने के आरोप हैं।

Leave a comment

Your email address will not be published.