18 मिनट में यमुना नदी को पार कर गया ये 8 साल का बच्चा,अंतरराष्ट्रीय तैराकी में मिलेंगे मैडल

दोस्तो सभी को घूमना अच्छा लगता है इसलिए हम खूबसूरत जगहों पर जाते है जहां झरने ,नदियों हो कुछ लोग नदी झरनो के पास जाकर तस्वीरे लेते है तो कुछ लोग नदी में उतर भी जाते है लेकिन कई बार इन बड़ी बड़ी नदियों का बहाब इतना ज्यादा होता है कि अच्छे से अच्छा स्विमर भी उन्हें पार नहीं कर पाएगा ।लेकिन आज हम आपको एक ऐसे बच्चे के बारे में बताने वाले है जिसने मिनटों में 250 मीटर चौड़ी नदी को पार कर रिकॉर्ड बनाया है आखिर कौन है ये बच्चा जानने के लिए लेख को अंत तक जरूर पढ़े।

18 मिनट में यमुना नदी को किया पार

8 साल के शिवांश मोहिले ने अपने कोच के गाइडेंस पर मीरापुर सिंधु सागर घाट से सुबह 6 बजे तैरना शुरू किया और सुबह 6:18 बजे नदी को पार कर दूसरे तट पर पहुंच गया|  नदी को पार करने के दौरान शिवांश के साथ 5 नाव भी चल रही थी| शिवांश के कोच त्रिभुवन ने बताया कि सिर्फ 18 मिनट में करीब 250 मीटर चौड़ी नदी को पार करके शिवांश ने रिकॉर्ड बनाया है| शिवांश के इस प्रदर्शन से पिता विकास मोहिले और में खुशी मोहिले काफी गर्व महसूस कर रहे है|

नवजीवन स्विमिंग क्लब में प्रशिक्षण

गौरतलब है की शिवांश के रिकॉर्ड बनाने से कुछ दिन पहले ही प्रयागराज के आराध्य श्रीवास्तव ने 22 मिनट में यमुना पर कर रिकॉर्ड बनाया था| लेकिन अब 18 मिनट में नदी पार करने का रिकॉर्ड शिवांश के पास है| शिवांश प्रायगराज का रहने वाला है| वह टैगोर पब्लिक स्कूल में दूसरी कक्षा का छात्र है| आपको बता दे की शिवांश प्रयागराज स्थित नवजीवन स्विमिंग क्लब में तैराकी का प्रशिक्षण ले रहा है|

राष्ट्रीय और अंतरराष्ट्रीय तैराकी में मिलेंगे मैडल

कोच त्रिभुवन ने बताया कि, इस समय इस क्लब में करीब 100 बच्चें ट्रेनिंग ले रहे है| जिन बच्चों को बिल्कुल भी तैरना नहीं आता है उन बच्चों ने भी हमारे क्लब को ज्वाइन करने क बाद यमुना नदी को पार किया है| प्रयागराज में तैराकी के लिए काफी अनुकूल वातावरण बताया जाता है| जिसका कारण भारत को बड़ी नदियां यमुना और गंगा दोनों का संगम है| शहर और जिले के कई बच्चे प्रशिक्षण लेकर तैराकी में आगे बढ़ रहे है| शहरवासियों का कहना है कि तैराकी को लेकर काफी जागरूकता बढ़ रही है| माता-पिता अपने बच्चों को तैराकी सीखने के लिए भेज रहे है| उन्हें उम्मीद है जल्द ही उनके शहर के तैराक राष्ट्रीय या अंतरराष्ट्रीय तैराकी प्रतियोगिता में मैडल लेकर आएंगे और शहर का नाम रोशन करेंगे|

Leave a Reply

Your email address will not be published.