दूसरे राज्यों में फं’से मजदूरों के लिए योगी का फरमान, घर जाने के लिए करना होगा यह काम

ताजा खबर

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ अपने प्रदेश के लिए आये दिन कड़े कदम उठा रहें हैं. कोरोना की वजह से देश के अंदर लॉक डाउन जारी हैं. इस लॉक डाउन में मजदूर और कामगारों लोग फंस गए हैं. जिनके लिए योगी सरकार उनको उनके गन्तव तक पहुँचाने में लगी हैं. कल इसी को लेकर गृह मन्त्रालय ने नई गाइडलाइन्स भी जारी कर दी हैं. जिनके हिसाब से मजदूरों को अपने प्रदेश में वापस लाया जा सकता हैं. जो अलग अलग प्रदेश में फंसे हैं.

Reverse migration a threat as livelihood options dry up

योगी ने अलग-अलग राज्यों में फंसे कामगारों व मजदूरों से अपील की है कि वे ‘वर्तमान में जिस जगह पर हैं वहीं रहें और धैर्य का परिचय दें, मुख्यमंत्री ने ट्वीट कर कहा है कि ‘मजदूर व कामगार पैदल न चलें. राज्य सरकारों से वार्ता कर सभी फंसे हुए लोगों की वापसी के लिए कार्ययोजना बनाई जा रही है.’ इन सबको ध्यान में रखते हुए मुख्यमंत्री ने अपनी टीम 11 के साथ बैठक कर आगे की रणनीति भी बनाई. साथ ही अधिकारियों को जरुरी दिशा निर्देश भी दिए हैं.

After news of father's death, UP CM Yogi stood up 'only after ...

योगी आदित्यनाथ ने ट्वीट कर लिखा, “सभी प्रवासी कामगार व श्रमिक बहनों-भाइयों से अपील है कि जिस धैर्य का परिचय आप सभी ने अभी तक दिया है उस धैर्य को बनाए रखें. पैदल न चलें. जिस राज्य में है वहां की सरकार से संपर्क में रहें. आप सभी की सुरक्षित वापसी के लिए संबंधित राज्य सरकार से वार्ता कर कार्ययोजना बनाई जा रही है.’

Stranded by virus lockdown, India migrant workers walk home

योगी सरकार ने सभी राज्य सरकार को पत्र लिखकर अपने प्रदेश के लोगों का पूरा ब्यौरा मांगा है और उन सबकी मेदिअच्ल रिपोर्ट की भी मांग की हैं. इन सबके बीच में योगी सरकार ने ये भी आदेश दिया है कि मजदूरों और श्रमिकों जो अलग अलग राज्य में फंसे हैं. उनके लिए शेल्टर होम, क्वारिंटीन सेन्टर और कम्युनिटी किचेन बनाने के भी निर्देश दिए है.

Labourers stranded in other states due to lockdown will be brought ...
योगी सरकार ने कहा है कि इनको वापस लेन के बाद 14 दिनों तक क्वारंटाइन में रखा जाएगा और उसके बाद उनको अपने-अपने गृह जनपद भेजा जायेगा.

1 thought on “दूसरे राज्यों में फं’से मजदूरों के लिए योगी का फरमान, घर जाने के लिए करना होगा यह काम

  1. सरकार कोई मोबाइल नंबर जारी करे समाचार न्यूज़ लगातार दिखाया जाए ताकि दूसरे राज्य मर फसे मजदूर को संपर्क करने में आसान हो जाये

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *